प्रेस-विज्ञप्ति

कुम्भ मेला क्षेत्र में तैयार आपदा प्रबन्धन योजना का रिहर्सल

आज दिनांक 11 जनवरी 2019 को कुम्भ मेले में आपदा प्रबन्धन हेतु तैयार योजना का रिहर्सल किया गया। रिहर्सल के दौरान विभिन्न घटनाओं का माॅक ड्रिल किया गया, जिसमें पुलिस बल के साथ अर्द्धसैनिक बल, एन0डी0एम0ए0, सिविल डिफेेन्स के जवानों ने भाग लिया एवं सेना के अधिकारियों द्वारा विभिन्न विभागों की कार्य पद्धति को देखा गया।

उक्त मॉक ड्रिल में तीन प्रकार के रिस्पान्डेण्ट बनाये गये थे। प्रथम रिस्पान्डेण्ट के स्तर पर स्थानीय एस0डी0एम0/क्षेत्राधिकारी/थानाध्यक्ष व पी0ए0सी0 बल की भूमिका निर्धारित की गयी। जबकि डेलीबे्रट रिस्पान्डेण्ट के रूप में स्वास्थ्य विभाग, पी0डब्लू0डी0, बिजली विभाग इत्यादि को रखा गया था। स्पेशलाइज्ड रिस्पान्डेण्ट बी0एस0एफ0, एस0एस0बी0, सी0आर0पी0एफ0, ए0एस0चेक, बी0डी0डी0एस0, एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 व जल पुलिस की भूमिका निर्धारित की गयी। रिहर्सल योजना के अनुसार सोमेश्वर महादेव मन्दिर के पास एक विस्फोट की सूचना कन्ट्रोल रूम को मिली सूचना मिलते ही कन्ट्रोल रूम ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को सूचित किया। सूचना पाकर पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुम्भ मेला श्री कवीन्द्र प्रताप सिंह ने कन्ट्रोल रूम पहुँच कर सभी ईकाईयों के मूवमेन्ट का नियंत्रण अपने हाथों में लिया। इसी बीच एस0डी0एम0 सेक्टर 18,19 व क्षेत्राधिकारी सोमेश्वर महादेव मौके पर पहुंचे तो थाना सोमेश्वर महादेव की पुलिस टीम ने सभी चैराहों तिराहों को रस्सो के माध्यम के कार्डन कर दिया। एस0डी0एम0 की सूचना पर स्वस्थ्य विभाग की टीम व एम्बुलेंस मौके पर पहुंची। कन्ट्रोल रूम के माध्यम से पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुम्भ मेला ने बी0एस0एफ0 की क्यूआरटी, एस0एस0बी0 की सर्च कम्पनी, ए0एस0चेक व बी0डी0डी0एस0 टीम को मौके पर भेजा एवं एन0डी0आर0एफ0 की एन्टी टेªर्रिस्ट युनिट भी मौके पर पहुँच गयी। ड्रिल के दौरान आतंकवादी के छुपने की जगह को एस0एस0बी0 द्वारा कार्डन किया गया तथा बी0एस0एफ0 की क्यूआरटी ने दो आतंकवादियों को मार गिराया व 03 अन्य को गिरफ्तार किया। सर्च ऑपरेशन एस0एस0बी0 व ए0एस0चेक टीम द्वारा किया गया।

इस मॉक ड्रिल के उपरान्त उपरोक्त सभी सुरक्षा एजेन्सियों के नोडल अधिकारियों की बैठक मेजर वी0के0 दत्ता के द्वारा की गयी तथा मॉक डिल में जो भी कमियां परिलक्षित हुई, उसके सुधार हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। इस मॉक ड्रिल के दौरान प्रयागराज सिविल डिफेंस के स्वयं सेवियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया तथा विभिन्न घटनाओं व अन्य प्रकार का क्राइम सीन डेवलप करने में कुम्भ मेला पुलिस का सहयोग किया। सम्पूर्ण ड्रिल के दौरान कन्ट्रोल रूम से पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुम्भ मेला श्री कवीन्द्र प्रताप सिंह द्वारा मॉक ड्रिल ऑपरेशन को कन्ट्रोल किया गया। अरैल क्षेत्र में माॅक ड्रिल की कमान्ड एस0पी0 ऑपरेशन श्री पूर्णेन्दु सिंह एवं अपर पुलिस अधीक्षक श्रीमती मोनिका चढ्डा द्वारा की गयी। जबकि अखाड़ा क्षेत्र में उक्त आॅपरेशन का नेतृत्व एस0पी0 अखाड़ा श्री आशुतोष मिश्रा तथा संगम क्षेत्र में ऑपरेशन का नेतृत्व पुलिस उपाधीक्षक श्री रितेश कुमार सिंह ने किया। कन्ट्रोल रूम से पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुम्भ मेला के कुशल नेतृत्व व निर्देशन में अर्द्धसैनिक बलों, अन्य डेलीबे्रट संस्थाओं, एम्बुलेंस, आदि ने अपनी भूमिका को बखूबी निभाया। मॉक ड्रिल ऑपरेशन के दौरान प्रत्येक स्थान पर सेना व एन0डी0एम0ए0 के वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद रहे। इस मॉक ड्रिल का उद्देश्य मेले में कार्यरत सभी ईकाइयों को आपदा के समय उनकी भूमिका को समझाना एवं भूमिका के अनुसार कार्य सिखाना तथा आपसी तालमेल/समन्वय स्थापित कराना था। पुलिस की आपदा प्रबन्ध योजना व विभिन्न ईकाईयों द्वारा किये गये रोल प्ले में एन0डी0एम0ए0 के अधिकारियों तथा सेना के पर्यवेक्षकों ने संतोष जताया तथा बेहतर ताल मेल व बेहतर कार्य निष्पादन की दिशा में अपने बहुमूल्य सुझाव भी दिये।

Friday, 11 जनवरी 2019